निष्ठुर अनुकंपा

निष्ठुर अनुकंपा
  Copy


More Options: Make a Folding Card




Storyboard Description

This storyboard does not have a description.

Storyboard Text

  • निष्ठुर अनुकंपा
  • परिवार की जायदाद और धन-दौलत बरबाद हो चुकी थी। फिर भि वे अपनी खानदानी इज्जत के कारन कहीं कोई, नौकरी-चाकरी या काम​-धंधा न्हीं कर पाते थे। गरीबी दिन-ब-दिन बढ रही थी। घर की स्त्रियों को भी अपने गहने बेचने पडे।
  • अब क्या किया जाए
  • घर के पस एक सहिजन का पेड था। उस मे से सहिजन तोड-बेच कर ही उन्का गुजारा चलता।
  • कुछ तो गड​-बड हेै।
  • एक दिन उन्के घर एक महेमान अए। उन्होने सब देखा ओर रात को पेद काट कर चले ग​ए।
  • अगर आप ने उस दिन वह पेड न कटा होत तो हम उस पेड के सहारे हि रहते और कभि अगे नहि बढ पाते।
  • एक साल बाद वही महेमान फ़िर से अाता हेै।
  • धन्यवाद
Explore Our Articles and Examples

Try Our Other Websites!

Photos for Class – Search for School-Safe, Creative Commons Photos (It Even Cites for You!)
Quick Rubric – Easily Make and Share Great-Looking Rubrics
abcBABYart – Create Custom Nursery Art